Sun. Jun 26th, 2022

नेपाल विमान दुर्घटना में मृत चार भारतीयों का काठमांडू में होगा अंतिम संस्कार


काठमांडू, 1 जून (हि.स.)। नेपाल में हुई विमान दुर्घटना में मारे गए सभी 22 लोगों के शव मिल गए हैं। तारा एयर लाइंस के विमान के 29 मई को दुर्घटनाग्रस्त होने के चार दिन बाद विमान का ब्लैक बॉक्स भी मिल गया है। इस दुर्घटना में मरने वालों में चार भारतीय भी हैं। अब उनके शवों का अंतिम संस्कार काठमांडू में ही किया जाएगा।

नेपाल में बीती 29 मई को तारा एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। विमान में 22 यात्री सवार थे और सबकी जान चली गयी थी। नेपाल के मुस्तांग जिले के दुर्गम पहाड़ी इलाके में लगातार चली पड़ताल के बाद विमान का ब्लैक बॉक्स ढूंढ़ लिया गया है। यहां से विमान में सवार 22वें व्यक्ति का शव भी मिला है। इन सभी शवों को काठमांडू ले जाया गया है। वहां त्रिभुवन विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल में इन सभी के शवों का पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम के बाद दुर्घटना में मृत यात्रियों के शव उनके परिजनों को सौंपे जाएंगे।

इस दुर्घटना में एक भारतीय परिवार के चार लोगों की भी मृत्यु हो गयी थी। महाराष्ट्र के ठाणे निवासी 54 वर्षीय अशोक कुमार त्रिपाठी, उनकी पत्नी 51 वर्षीय वैभवी त्रिपाठी, पुत्र 22 वर्षीय धानुष और पुत्री 15 वर्षीय रितिका को इस हादसे में जान गंवानी पड़ी थी। अब इन चारों का अंतिम संस्कार नेपाल में ही करने का फैसला उनके परिजनों ने किया है। भारतीय दूतावास के मुताबिक इन चारों के शवों का अंतिम संस्कार काठमांडू के पशुपति नाथ मंदिर के निकट बागमती नदी के तट पर किया जाएगा।