Wed. Sep 28th, 2022

नरसिंहानंद गिरी महाराज दिल्ली जाते हुए गिरफ्तार


गाजियाबाद, 20 सितम्बर (हि.स.)। हिन्दुओं पर सुनियोजित अत्याचार के विरोध में और लोगों को लगातार मिल रही सिर कलम करने की धमकियों के विरोध में गांधी समाधि पर एक दिवसीय उपवास करने व गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखने जा रहे महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी महाराज को कौशाम्बी थाना पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। उनके शिष्य अनिल यादव (छोटे नरसिंहानंद) ने इस गिरफ्तारी का विरोध किया है। इसे उन्होंने पूरे हिन्दू समाज का दमन बताया है।

एक बयान में उन्होंने कहा कि महाराज ने अपने पूरे जीवन केवल सनातन धर्म की लड़ाई लड़ी है, जिसका केवल हिंदीवादी सरकारों ने फायदा उठाया है। पूरे देश मे केवल यति जी ने ही इस्लाम की जड़ों में मठ्ठा डालने का काम किया है जिससे जिहादियों के साथ-साथ सरकारें भी हिली हुई हैं, महाराज की गिरफ्तारी दुर्भाग्यपूर्ण है।

हिन्दू फोर्स के राष्ट्रीय अध्यक्ष दीपक सिंह हिन्दू ने कहा कि इस्लामिक जिहाद के आगे सरकार व प्रसाशन ने घुटने टेक दिए हैं। यहां रोहगिंयाओं व बांग्लादेशी मुस्लिमों को संरक्षण दिया जा रहा है। निर्दोष संतों को गिरफ्तार किया जा रहा है।