Wed. Feb 21st, 2024

दोस्त शिंजो आबे के अंतिम विदाई समारोह में शामिल हुए प्रधानमंत्री मोदी


-मिले फुमियो किशिदा से, कहा-भारत और जापान के संबंध और प्रगाढ़ होंगे

टोक्यो, 27 सितंबर (हि.स.)। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को यहां जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल हुए। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने दोस्त शिंजो आबे को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए आखिरी विदाई दी।

इससे पहले भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टोक्यो में जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के साथ द्विपक्षीय बैठक की। मोदी ने कहा- ‘भारत और जापान की दोस्ती ने एक वैश्विक प्रभाव पैदा करने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई है…। मुझे विश्वास है कि आपके नेतृत्व में भारत-जापान संबंध और अधिक गहरे होंगे। हम विश्व में समस्याओं के समाधान में एक उचित भूमिका निभाने के लिए समर्थ बनेंगे।’

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे का राजकीय अंतिम संस्कार निप्पॉन बुडोकन कम्युनिटी सेंटर में किया गया। प्रधानमंत्री मोदी ने यहां जापान के दिवंगत नेता को पुष्पांजलि अर्पित की। शिंजो आबे का राजकीय अंतिम संस्कार भारतीय समयानुसार सुबह 10:30 बजे (जापान समय के मुताबिक, दोपहर 2 बजे) किया गया। आबे की 8 जुलाई को गोलीमार कर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद परिवार ने शिंजो का अंतिम संस्कार 15 जुलाई को किया था। इसके बाद जापान सरकार ने 27 सितंबर को दिवंगत नेता आबे का का राजकीय अंतिम संस्कार करने की घोषणा की थी।

राजकीय अंतिम संस्कार समारोह में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, अमेरिका की उप राष्ट्रपति कमला हैरिस, सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सीन लूंग, ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज, वियतनामी राष्ट्रपति गुयेन जुआन फुक, दक्षिण कोरिया के प्रधानमंत्री हान डक-सू, फिलीपींस की उपराष्ट्रपति सारा डुटर्टे-कार्पियो, इंडोनेशिया के राष्ट्रपति मारुफ अमीन, यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल समेत 217 देशों के करीब 700 प्रतिनिधि मौजूद रहे।

इस मौके पर प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा, पार्लियामेंट स्पीकर हिरोयुकी हासोदा, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस सबुरो टोकरा और आबे के करीबी सहयोगी पूर्व प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने उनके व्यक्तित्व पर संबोधन किया। सबसे पहले जापान के शाही परिवार के दूत ने शिंजो आबे को श्रद्धांजलि दी।