Mon. Aug 8th, 2022

देश में 23.08 करोड़ आभा कार्ड बनाए गएः डॉ. मनसुख मंडाविया


नई दिल्ली, 03 अगस्त (हि.स.)। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने बुधवार को ट्वीट करके कहा कि आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के तहत देश में 23.08 करोड़ ( आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट) आभा कार्ड बनाए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन से लोगों का जीवन बदल रहा है। डिजिटल हेल्थ केयर इको सिस्टम को मजबूत करके लोगों के जीवन को आसान बनाने की दिशा में काम किया जा रहा है।

आभा कार्ड क्या हैः आभा कार्ड हर नागरिक को आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के अंतर्गत उपलब्ध कराया जाने वाला कार्ड है। ये एक आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट यानी आभा कार्ड है। इस कार्ड में व्यक्ति की स्वास्थ्य संबंधी सभी जानकारियां उपलब्ध रहेंगी। ये कार्ड इसलिए विशेष है क्योंकि इसमें एक मरीज की पूरी स्वास्थ्य संबंधित जानकारी डिजिटल माध्यम में सुरक्षित रहेंगी। इसमें किसी भी पुरानी रिपोर्ट के खो जाने का डर नहीं रहेगा। आप की जानकारी के लिए बता दें की इसे कभी भी एक्सेस किया जा सकता है। और इसी आधार पर आगे का इलाज करने के लिए जानकारी का उपयोग किया जा सकता है।