Mon. May 23rd, 2022

देश के 35 हजार स्टेशन मास्टर 31 को रहेंगे हड़ताल पर


– कई वर्षों से अपनी मांगों को लेकर आंदोलनरत आल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन ने अपनाया यह रास्ता

झांसी,14 मई (हि.स.)। कई वर्षों से अपनी मांगों को लेकर आंदोलनरत आल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन ने बताया कि देश के सभी 35 हजार स्टेशन मास्टर 31 मई को सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। यह बात शनिवार को आयोजित की गई पत्रकार वार्ता के दौरान ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन के मंडल सचिव अजय दुबे ने जानकारी देते हुए कही।

उन्होंने बताया कि उनकी एसोसिएशन स्टेशन मास्टर की समस्याओं के समाधान के लिए 31 मई को एक दिन पूरे देश में स्टेशन मास्टरों ने सामूहिक छुट्टी लेने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा हमारे संगठन ने कई बार स्टेशन मास्टरों की समस्याओं के निस्तारण के लिए आंदोलन किए, ज्ञापन दिए, रेल अधिकारियों से मिले। लेकिन रेलवे कर्मचारियों की समस्याओं के समाधान की अनदेखी की जा रही है।

उन्होंने कहा पूरे भारत वर्ष के 35 हजार स्टेशन मास्टर वर्ष 2020 से मांगो को निस्तारण के लिए संघर्षरत है। उन्होंने अपनी सात सूत्रीय मांगों को गिनाते हुए बताया की नाइट ड्यूटी भत्ता की वेतन सीलिंग लिमिट रुपए 43600 आदेश रद्द किया जाए। रिकवरी के आदेश वापस लिए जाए। स्टेशन मास्टरों के खाली पड़े पदों को भरा जाए। एम ए सी पी योजना का लाभ 2016 से दिया जाए। स्टेशन मास्टर को सेफ्टी एवम तनाव भत्ता दिया जाए। स्टेशन मास्टर को कैडर का वर्गीकरण दिया जाए। नई पेंशन स्कीम बंद करके पुरानी पेंशन लागू की जाए।

स्टेशन मास्टर को इस्ताइप की नई दरें निर्धारित करने के लिए आई आर ई एम में आवश्यक सुधार किया जाए। इन्ही मांगों को लेकर देश के स्टेशन मास्टर 31 मई 2022 को हड़ताल पर रहेंगे। इसके लिए झांसी मंडल के कुल 500 स्टेशन मास्टरों में से 350 की अवकाश का आवेदन एसोसिएशन के पास आ चुके हैं। पदाधिकारियों ने लोगों से अपील की कि यदि आप 31 को यात्रा कर रहे हैं तो आप अपनी यात्रा स्थगित करने का कष्ट करें ताकि आपको कोई परेशानी न उठानी पड़े।

इस दौरान केंद्रीय उपाध्यक्ष अजय नारायण, मंडल कोषाध्यक्ष लक्ष्मण रिछारिया, मंडल अध्यक्ष निशीथ माथुर, सीएल यादव, राजेश नामदेव, राजेश मीना, श्याम श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।