Fri. Jul 1st, 2022

डिमा हसाउ में भूस्खलन से होने वाले नुकसान पर मुख्यमंत्री ने की समीक्षा बैठक


डिमा हसाउ (असम), 24 मई (हि.स.)। मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा मंगलवार को बारिश और भूस्खलन से प्रभावित पहाड़ी जिला डिमा हसाउ का जायजा लेने पहुंचे। भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री ने जिला में बारिश और भूस्खलन से हुए नुकसान पर समीक्षा बैठक की। बैठक में जिले में पूर्ण संपर्क को और क्षतिग्रस्त सड़कों को बहाल करने का भी आह्वान किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा है कि बारिश के कारण होने वाले भूस्खलन को रोकने के लिए पूरे मुद्दे का स्थायी समाधान खोजा जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि बारिश और भूस्खलन के चलते राज्य के पहाड़ी जिला डिमा हसाउ को भारी नुकसान हुआ है। मुख्य रूप से सड़क और रेल मार्ग पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है। इस कारण जिले में यातायात के सभी रास्ते बंद हैं। वायु सेना की मदद से जिला में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है। सड़कों की मरम्मत के लिए तेजी से कार्य चल रहा है। वहीं इस आपदा के दौरान केंद्र और राज्य सरकार ने उत्तर कछार स्वायत्तशासी परिषद को वर्तमान संकट के दौरान राहत देने के लिए पर्याप्त धन के साथ आवश्यक सहायता करने का आश्वासन दिया है।

इस समीक्षा बैठक में उत्तर कछार स्वायत्तशासी परिषद के मुख्य कार्यकारी सदस्य देबलाल गार्लोसा, विधायक नंदिता गार्लोसा, उत्तर कछार स्वायत्तशासी परिषद की अध्यक्ष रानू लांगथासा, राज्य के मुख्य सचिव जिष्णु बरुवा, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव समीर कुमार सिन्हा, वरिष्ठ अधिकारी आदि उपस्थित रहे।