Wed. Feb 21st, 2024

टीएमबीयू के कुलपति ने की शिक्षा मंत्री से मुलाकात, विश्वविद्यालय के विकास के लिए मांगा सहयोग


भागलपुर, 14 अक्टूबर (हि.स.)। तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय (टीएमबीयू) के कुलपति और मगध विश्वविद्यालय बोधगया (एमयू) के प्रभारी वीसी प्रो. जवाहर लाल ने शुक्रवार को बिहार के शिक्षा मंत्री प्रो. चंद्रशेखर और शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव और सचिव से मुलाकात कर विश्वविद्यालय की शैक्षणिक और प्रशासनिक गतिविधियों और क्रियाकलापों की जानकारी दी। शिक्षा मंत्री और शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ कुलपति की यह शिष्टाचार भेंट थी। कुलपति ने शिक्षा मंत्री और शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव व सचिव को तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय की आधारभूत संरचनाओं से अवगत कराया।

वीसी ने शिक्षा मंत्री से कहा कि टीएमबीयू में इंफ्रास्ट्रक्चर की कमी है। कई छात्रावास और बिल्डिंग वर्षों से अर्द्धनिर्मित पड़े हुए हैं। जिनमें कई महिला छात्रावास भी शामिल है। विश्वविद्यालय के विकास के लिए उन सभी अधूरे कामों को पूरा कराना जरूरी है। उन्होंने विश्वविद्यालय के विकास को लेकर भी चर्चा की। कुलपति ने टीएमबीयू और एमयू से जुड़ी समस्याओं को भी शिक्षा मंत्री के सामने रखा। शिक्षा मंत्री ने कुलपति को आश्वस्त किया की जल्द ही सरकार विश्वविद्यालय की आधारभूत संरचनाओं और समस्याओं का निदान करेगी।

शिक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि टीएमबीयू और एमयू की समस्याओं को दूर करने के लिए सभी जरूरी पहल की जाएगी। कुलपति प्रो. जवाहर लाल ने बताया कि शिक्षा मंत्री और एचआरडी के सचिव ने टीएमबीयू और एमयू के विकास के लिए सार्थक और समुचित पहल करने का आश्वासन दिया। शिष्टाचार भेंट के दौरान वीसी के अनुरोध पर शिक्षा विभाग के सचिव ने कहा कि बिहार स्टेट एडुकेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बिहार राज्य शैक्षणिक आधारभूत संरचना विकास लिमिटेड) पटना की टीम बुधवार को टीएमबीयू जाएगी। इसके लिए बीएसआईईडीसीएल के चीफ इंजीनियर को निर्देशित किया गया कि वे टीएमबीयू का निरीक्षण कर रिपोर्ट दें ताकि सभी अधूरे आधारभूत संरचना से संबंधित कार्यों को पूरा करने के लिए कवायद शुरू की जा सके।