Mon. Aug 8th, 2022

जेट एयरवेज उड़ान भरने को तैयार, कंपनी कर रही पायलटों की भर्ती


नई दिल्ली, 27 जुलाई (हि.स.)। जेट एयरवेज लगभग तीन साल के अंतराल के बाद एक बार भी उड़ान भरने की तैयारी कर रही है। कंपनी ने कर्मचारियों की भर्ती करने के उपरांत अब हवाई जहाज उड़ाने के लिए कैप्टन और फर्स्ट ऑफिसर की वैकेंसी निकाली है। देश में निजी क्षेत्र की दूसरे नंबर की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी रही जेट एयरवेज को नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) से सभी जरूरी मंजूरी पहले ही मिल चुकी है।

जेट एयरवेज ने ट्वीट कर बताया कि कंपनी के मैनेजमेंट ने सभी वित्तीय समस्या को दूर कर लिया है। कंपनी ने कर्मचारियों की भर्ती के बाद अब पायलओं की भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कंपनी के पास एयरबस ए-320 एयरक्राफ्ट और बोइंग 737-एनजी तथा मैक्स-737 विमान हैं, जिन्हें उड़ाने के लिए पायलटों की तलाश है। जेट ने एक ट्वीट में लिखा है कि ऐसे पायलटों का कंपनी में स्वागत है, जिन्हें इन विमान को उड़ाने का अनुभव है।

कंपनी पर कर्ज न चुकाने के बाद दिवालिया प्रक्रिया शुरू की गई थी, जबकि 17 अप्रैल, 2019 से इसकी उड़ानों पर विराम लगा हुआ है। एसबीआई ने अन्य बैंक समूहों के साथ मिलकर जून, 2019 में कंपनी के खिलाफ 8 हजार करोड़ रुपये वसूलने के लिए दिवालिया प्रक्रिया शुरू की थी। इसके बाद यूके की कालरॉक कैपिटल और यूएई के बिजनेसमैन मुरारी लाल जालान ने इस कंपनी को बोली लगाकर खरीद लिया।

जेट एयरवेज के मुताबिक कंपनी को मई में डीजीसीए से सभी जरूरी मंजूरियां मिल गईं थी। कंपनी के मुतबिक सितंबर तक उसके विमान आसमान में फिर उड़ान भरेंगे। इससे पहले सूत्रों ने बताया था कि जेट एयरवेज अपनी नई पारी की शुरुआत घरेलू रूट से करने वाली है। हालांकि, उसे विमानन क्षेत्र की नई कंपनी आकासा एयर से तगड़ी प्रतिस्पर्धा मिलने की संभावना है, जिसकी अगस्त से ही उड़ान शुरू होने जा रहे हैं। गौरतलब है कि इसी महीने की शुरूआत में टाटा समूह के एयर इंडिया के पायलटों की भर्ती में शामिल होने के लिए पायलट ऐसे उमड़े थे कि इंडिगो की सेवा बाधित हो गई थी।