Mon. Aug 8th, 2022

जिहादी लिंकमैन मुफ्ती मुस्तफा मोइराबारी से गिरफ्तार


-मदरसा सील, बंगाईगांव से भी एक जिहादी लिंकमैन बुधवार को हुआ था गिरफ्तार

मोरीगांव (असम), 28 जुलाई (हि.स.)। मदरसे में जिहादी गतिविधियों के तथ्य सामने आने के बाद पुलिस ने मोइराबारी में जमीउल हुदा मदरसे को सील कर दिया है। इसके साथ ही गुरुवार को मदरसे के मुफ्ती मुस्तफा को जिहादी लिंकमैन के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है ।

मोरीगांव जिला के मोइराबारी के मदरसे से जिहादी गतिविधियों को संचालित करने का गंभीर आरोप लगाया जा रहा है। पुलिस ने बताया है कि जमीउल हुदा मदरसा के मुफ्ती मुस्तफा ने जिहादियों को सिम कार्ड मुहैया कराया था। मुफ्ती के बैंक पासबुक से बांग्लादेश से मनी-लॉन्ड्रिंग डेटा का भी खुलासा हुआ है।

ज्ञातव्य है कि बंगाईगांव में जिहादी अब्बास अली को बुधवार को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उससे पूछताछ के आधार पर मुफ्ती की आज गिरफ्तारी हुई है। फरार जिहादी महबूब की पुलिस तलाश कर रही है। महबूब बांग्लादेश का नागरिक है।

गिरफ्तार जिहादी लिंकमैन से पूछताछ में पता चला है कि महबूब मोइराबारी के जमीउल हुदा मदरसे में शरण ले रहा था। हालांकि, पुलिस के पहुंचने से पहले ही वह फरार हो गया। इस मामले में अभी और भी कुछ लोगों की गिरफ्तारी हो सकती है।

पुलिस लगातार छापामारी कर रही है। यह भी दावा किया जा रहा है कि मोरीगांव के लगभग 7 मदरसों पर पुलिस की नजर है। यह भी आरोप लगाए जा रहे हैं कि मदरसा जिहादी संगठनों के पैसे से चलता है। फिलहाल पुलिस सभी मामलों की बारीकी से जांच कर रही है। पहले भी बरपेटा और बंगाईगांव के साथ ही पड़ोसी राज्य त्रिपुरा से असम में गतिविधियां चलाने वाले दर्जन भर से अधिक जिहादियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।