Thu. Sep 29th, 2022

जगदलपुर : भतीजे ने की चाचा की कुल्हाड़ी मारकर हत्या, आरोपित गिरफ्तार


जगदलपुर, 21 अगस्त (हि.स.)। जिले के पखनार चौकी क्षेत्र अंर्तगत ग्राम तोयनार में शनिवार की देर रात पुराने विवाद के चलते भतीजा लखमू पोयामि ने अपने चाचा मंगलू मरकाम को कुल्हाड़ी से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। घटना को अंजाम देने के बाद फरार हत्यारे भतीजे लखमू पोयामि को पुलिस ने रविवार की सुबह गिरफ्तार कर लिया है।

पखनार चौकी प्रभारी पीयूष बघेल ने बताया कि, ग्राम तोयनार में नाले के पास स्थित मंगलू मरकाम का खेत उसके भतीजे लखमू पोयामि के खेत से जुड़ा हुआ है। दोनों परिवारों ने अपने-अपने जमीन का बंटवारा कर लिया था। जमीन बंटवारे के बाद से ही लखमू उसके खेत की फसल खराब होने का दोष देते हुए अपने चाचा मंगलू के साथ विवाद करता रहता था। शनिवार को भी खेत की फसल खराब होने की बात को लेकर मंगलू और लखमू के बीच विवाद हुआ था, इसके बाद देर रात मंगलू जब अपने परिवार के साथ घर में सो रहा था तभी करीबन 11 बजे लखमू वहां अचानक पहुंच गया। इसके बाद लखमू ने गहरी नींद में सो रहे मंगलू पर टंगिये से ताबड़तोड़ हमला करना शुरू कर दिया। इस दौरान मंगलू की पत्नी और पुत्र जाग गए, मंगलू की पत्नी ने बीच बचाव करने प्रयास किया लेकिन आक्रोशित लखमू ने धक्का देते हुए मंगलू की पत्नी और पुत्र को भी जान से मारने की धमकी देने लगा। टंगिये से हमला करने के बाद लखमू ने चाकू से मंगलू का गला काट दिया, जिसकी वजह से मंगलू की मौके पर ही मौत हो गई।

इस खूनी वारदात के दौरान मंगलू की पत्नी अपनी और पुत्र अपनी जान बचाने के लिए जंगल में भाग गए। वहीं घटना को अंजाम देने के बाद हत्यारा भतीजा लखमू फरार हो गया। रविवार सुबह जब मंगलू की पत्नी और पुत्र दोनों घर वापस पहुंचे तो उन्होंने मंगलू को मृत पाया। इसके बाद मृतक की पत्नी ने इस घटना की जानकारी गांव के सरपंच के साथ अन्य जनप्रतिनिधियों को दी। जानकारी मिलने के बाद गांव के जनप्रतिनिधियों ने इस मामले की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस हत्या के आरोपित लखमू पोयामी की पतासाजी के दौरान पुलिस ने आरोपित को गांव के पास के जंगल से रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया है।