Fri. Jul 1st, 2022

ग्राम प्रधान की दबंगई जेसीबी से मार्ग अवरुद्ध कार सवार युवकों को किया मरणासन्न


औरैया, 22 मई (हि.स.)। अयाना थाना क्षेत्र में एक खनन माफिया ने चार युवकों के साथ बीच सड़क पर जेसीबी लगाकर कार रोक ली और उनसे मारपीट कर लहूलुहान अवस्था छोड़ कर भाग गए। घटना की जानकारी लगते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायल युवकों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।

वही, दो युवकों को मारपीट में ज्यादा चोट आई है। घायल हुए युवक ने बताया कि चुनावी रंजिश के चलते इस घटना को अंजाम दिया गया लेकिन अभी तक अपराधियों की गिरफ्तारी पुलिस ने नहीं की है। जिससे आरोपियों के हौसले बुलन्द होते दिख रहे हैं।

अयाना थाना क्षेत्र के असेवटा-सेंगनपुर मार्ग पर शनिवार को चुनावी रंजिश को लेकर खनन माफिया ने शादी से लौट रहे युवकों के साथ मारपीट कर दी। खनन माफियाओं की गुंडई इस कदर देखने को मिली, पहले उसने जेसीबी लगा कर रास्ता बंद कर किया फिर हमला किया।

बताते चलें कि, असेवटा प्रधान प्रदीप यादव ने अपने साथियों के साथ मिलकर जेसीबी से रास्ता बंद कर दिया और शादी से अपनी कार से लौट रहे रामप्रताप सिंह व कार में बैठे तीन लोगों के साथ मारपीट करने लगे। वही आरोपियों ने युवकों के साथ मारपीट कर उन्हें मरणासन कर दिया और मर समझकर भाग गए। घायल युवकों ने किसी तरह घटना की जानकारी परिजनों को दी। मौके पर पहुंचे परिजनों ने पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को आयना सीएचसी में भर्ती करया। जहां दो युवकों के ज्यादा चोटे आई।

इस घटना को लेकर पुलिस ने घायल हुए युवकों की तहरीर पर गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। मगर अभी तक किसी की गिरफ्तरी नहीं हुई है जिसको लेकर पुलिस पर सवालियां निशान खड़े हो रहे है कि आखिर इन अपराधियों की गिरफ्तारी अब तक क्यों नहीं की गई है।

वहीं, घायल रामपुर प्रताप सिंह का कहना है कि थाने में तहरीर देते हुए आरोप लगाया कि शाम को वह गांव के रहने वाले शिववीर सिंह की बेटी की शादी में शामिल होने के लिए औरैया गया था। उसी शादी में असेवटा ग्राम प्रधान प्रदीप यादव उर्फ गुड्डू भी गया था। समारोह के दौरान उसकी गुड्डू से किसी बात को लेकर बहस हो गई। उस समय मामला शांत हो गया लेकिन देर रात जब रामप्रताप कुछ लोगों के साथ अपनी गाड़ी से वापस घर लौट रहे थे तभी प्रदीप यादव ने आनंद, शीलू, रिंकू यादव व कुछ अज्ञात लोगों के साथ असेवटा-सेंगनपुर मार्ग पर पचनंद इंटर कालेज के पास रास्ते में अपनी जेसीबी लगाकर कार को रोककर जान से मारने की नियत से लाठी-डंडों से हमला बोल दिया।

सीएचसी में तैनात डॉक्टर सुनील कुमार ने बताया कि चार लोगो के साथ मारपीट हुई थी, जो अस्पताल में इलाज के लिए आए थे जिनमें से दो लोगो के ज्यादा चोटे थी।