Wed. Aug 10th, 2022

गुजरात में जहरीली शराब से हुई मौत मामले की न्यायिक जांच हो : कांग्रेस


नई दिल्ली, 29 जुलाई (हि.स.)। कांग्रेस ने गुजरात में जहरीली शराब पीने से हुई मौत के मामले की न्यायिक जांच की मांग की है।

शुक्रवार को कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित एक प्रेसवार्ता के दौरान पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि गुजरात में जहरीली शराब पीने से अभी तक लगभग 50 लोगों की मौत हो चुकी है। बहुत से लोग अभी भी अस्पतालों में जीवन-मौत से जंग लड़ रहे हैं। यह सामान्य बात नहीं है। उन्होंने कहा कि गुजरात में शराब पर प्रतिबंध होने के बाद भी वहां गैरकानूनी तरीके से शराब का कारोबार चल रहा है। खेड़ा ने आशंका जताई है कि इस कारोबार में ताकतवर लोग संलिप्त हो सकते हैं। इसलिए इसकी जांच गुजरात हाईकोर्ट के सिटिंग जज की देखरेख में कराई जानी चाहिए। तभी लोगों को न्याय मिल पाएगा।

खेड़ा ने कहा कि कांग्रेस की मांग है कि जहरीली शराब पीने से जिन लोगों की जान गई है उनके परिजनों के लिए सरकार तुरंत उचित मुआवजे की घोषणा करे। खेड़ा ने कहा जो लोग अस्पताल में भर्ती हैं उनका मुफ्त में इलाज हो और उन्हें भी उचित मुआवजा दिया जाए।

उन्होंने कहा कि यह बड़े आश्चर्य की बात है कि गुजरात में इतना बड़ा हादसा हो गया और देश के प्रधानमंत्री और गृह मंत्री ने एक शब्द तक नहीं कहा। खेड़ा ने कहा कि अगर यही घटना किसी गैर भाजपा शासित राज्य में हुई होती तो भाजपा के लोग हंगामा कर देते लेकिन गुजरात मामले पर सभी चुप हैं।