Wed. Feb 21st, 2024

क्रिकेट को जब अलविदा कहूंगी तो टीम नई प्रतिभाओं के साथ कहीं और मजबूत होगी : मिताली राज


क्वीन्सटाउन, 24 फ़रवरी (हि.स.)। भारतीय महिला एकदिवसीय क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने गुरुवार को कहा कि जब वह आगामी 50 ओवर विश्व कप के बाद संन्यास लेंगी, तो टीम नई प्रतिभाओं के साथ कहीं और अधिक मजबूत होगी।
न्यूजीलैंड के खिलाफ पांचवें वनडे के बाद मिताली ने कहा, “जब मैं इस टूर्नामेंट के बाद संन्यास लूंगी, तो मैं देखूंगी कि आने वाली नई प्रतिभाओं के साथ टीम कहीं ज्यादा मजबूत है।”
स्मृति मंधाना, मिताली राज और हरमनप्रीत कौर के बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत भारत ने गुरुवार को क्वीन्सटाउन के जॉन डेविस ओवल में पांचवें और अंतिम एकदिवसीय मैच में न्यूजीलैंड को छह विकेट से हराया।
मिताली ने कहा, “हमने पिछले कुछ मैचों में सुधार किया है। यह विश्व कप से पहले एक अच्छा संकेत है। बड़े टूर्नामेंट से पहले सही तैयारी करना महत्वपूर्ण था। दुर्भाग्य से हम बढ़ते ओमिक्रोन मामलों के कारण भारत में शिविर नहीं लगा सके।”
उन्होंने कहा, “विकेट बल्लेबाजी के अनुकूल लग रहा था, लेकिन गेंदबाजों ने आज अच्छा प्रदर्शन किया। जिस चीज पर हमें अधिक काम करने की जरूरत है वह है हमारी क्षेत्ररक्षण। हमें यह मौका देने के लिए न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड का धन्यवाद।”
भारत ने स्मृति मंधाना (71), हरमनप्रीत कौर (63) और कप्तान मिताली राज (57) के शानदार अर्धशतकों की बदौलत गुरुवार को पांचवें और आखिरी वनडे मैच में न्यूजीलैंड को छह विकेट से हरा कर खुद को क्लीन स्वीप होने से बचा लिया। न्यूजीलैंड ने हालांकि 4-1 सीरीज जीत ली।
मेजबान न्यूजीलैंड ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी की और ऑलराउंडर अमेलिया केर के अर्धशतक और अन्य बल्लेबाजों के महत्वपूर्ण योगदान से 50 ओवर में नौ विकेट पर 251 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। जवाब में भारत ने स्मृति, हरमनप्रीत और कप्तान मिताली के अर्धशतकों से 46 ओवर में चार विकेट पर 255 रन बना कर मैच जीत लिया। स्मृति ने नौ चौकों की मदद से 84 गेंदों पर 71, हरमनप्रीत ने छह चौकों और एक छक्के के सहारे 66 गेंदों में 63 और मिताली ने छह चौकों के दम पर 66 गेंदों पर नाबाद 57 रन बनाए।