Sun. May 22nd, 2022

काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट के सामने नमाज पढ़ने बैठी महिला मानसिक बीमार निकली


—पास से दवा की पर्ची, मेडिकल रिपोर्ट, हिन्दू देवी देवताओं का फोटो भी मिला

वाराणसी, 06 मई (हि.स.)। श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट नम्बर चार के समीप शुक्रवार को नमाज पढ़ने की मुद्रा में बैठी महिला मानसिक रूप से बीमार निकली। उसके पास से मंडलीय शिवप्रसाद गुप्त अस्पताल की पर्ची, मेडिकल रिर्पोट के साथ हिन्दू देवी देवताओं का चित्र भी मिला है।

थाना चौक कमिश्नरेट ने बताया कि अपरान्ह एक बजे श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट नंबर 4 के सामने जब पुरुष वर्ग ज्ञानवापी मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिए जा रहे थे। इसी दौरान एक महिला सड़क के पटरी पर अपना बैग व जूता निकाल कर नमाज पढ़ने जैसी स्थिति में बैठ गई। लगभग 10 मिनट बाद जब वह सामान्य स्थिति में आई तो उपस्थित महिला उप निरीक्षक एवं महिला आरक्षी के देख रेख में उसका बयान लिया गया । तलाशी लेने पर उसके झोले से मानसिक चिकित्सालय वाराणसी , एसएसपीजी कबीरचौरा , राजकीय महिला चिकित्सालय वाराणसी के मेडिकल रिपोर्ट,अस्पताल की पर्ची, हिंदू देवी देवताओं के फोटो, दवाएं , वोटर आईडी कार्ड व जाति प्रमाण पत्र मिला । महिला का नाम आयशा पत्नी मो. हनीफ है। वह जैतपुरा की निवासी है। छानबीन और पूछताछ में पता चला कि डॉक्टर अजय कुमार सिंह मनोरोग विशेषज्ञ के देख रेख में आयशा का इलाज चल रहा है।

महिला ने बताया कि मेरे पति की पहली पत्नी से 07 बच्चे हैं। पति ने मुझे घर से निकाल दिया है । मैं मानसिक रूप से परेशान रहती हूं , फरीद बाबा मजार जो पंजाब में है ने रात में स्वप्न दिया था तो मैं यहाँ नमाज पढ़ने चली आई। पूछताछ के बाद महिला को इलाज के लिए महिला आरक्षी के देख रेख में एसएपीजी अस्पताल भेज दिया गया।