Mon. May 23rd, 2022

कस्टडी से फरार अपराधी की तलाश में पुलिस की चार टीमों का गठित


– पेशी पर लेकर आए दोनों सिपाहियों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

मुुरादाबाद, 06 मई (हि.स.)। जेल में बंद का कांठ थाने के हिस्ट्रीशीटर फहीम एटीएम के पुलिस कस्टडी से फरार हो जाने के मामले में पुलिस की चार टीमों का गठन किया गया है। साथ ही उसे पेशी पर लेकर आए दोनों सिपाहियों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया है।

बिजनौर जेल में बंद कांठ थाने का हिस्ट्रीशीटर फहीम एटीएम पुलिस कस्टडी से फरार हो गया। गुरुवार को उसे पेशी के लिए बिजनौर पुलिस के दो सिपाही लेकर आए थे। आरोपित पाकबड़ा थाना क्षेत्र में पहुंचने के बाद पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था। सूचना मिलते ही बिजनौर और मुरादाबाद के साथ ही आस-पास के जनपदों की पुलिस सक्रिय हो गई। पुलिस अधीक्षक नगर अखिलेश भदौरिया ने बताया कि आरोपित को पकड़ने के लिए चार टीमें गठित की गई। आस-पास के सभी जनपदों में सूचना दी गई है। जल्द ही आरोपित को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। साथ ही साथ कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में शुक्रवार को दोनों सिपाहियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया हैं।

कांठ थाना क्षेत्र की नगर पंचायत ऊमरीकलां निवासी फहीम उर्फ एटीएम शातिर अपराधी है। उसके खिलाफ अलग-अलग जनपदों में मुकदमे दर्ज हैं। दो साल पहले पुलिस ने उसकी लगभग 70 लाख रुपये की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई की थी। फहीम एटीएम के खिलाफ लूट, डकैती, रोड होल्डअप जैसी बड़ी घटनाओं के बरेली, हापुड़, गाजियाबाद, बदायूं, नोएडा के अलावा हरियाणा के गुडगांव और उत्तराखंड के उधमसिंह नगर में 24 मुकदमे दर्ज है। इसके साथ ही बीते वर्ष कर्नाटक पुलिस ने भी उसे पकड़ने के लिए कांठ में छापेमारी की थी। पुलिस की नजरों से बचने के लिए वह अपने ठिकाने बदलता रहता है।

पुलिस अधीक्षक नगर अखिलेश भदौरिया ने बताया कि विधानसभा चुनाव से पहले उसे प्रशासनिक आधार पर मुरादाबाद जेल से बिजनौर भेजा गया था। गुरुवार को एडीजे प्रथम की कोर्ट में आरोपित की पेशी होनी थी। इसके लिए दो पुलिस कर्मी उसे बिजनौर से मुरादाबाद कोर्ट लेकर आए थे। पेशी के बाद आरोपित फहीम एटीम ने अपने रिश्तेदारों से मिलने का झांसा देकर पाकबड़ा लेकर गया था। यहां पर हाशिमपुरा चौराहे पर स्थित रिश्तेदार के घर पर उसने दोनों पुलिस कर्मियों को कमरे में बैठने के लिए कहा इसके बाद खुद अंदर गया कमरे को बाहर से बंद करके भाग गया।