Wed. Sep 28th, 2022

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अच्छी शुरुआत चाहेगी टीम इंडिया, कंगारुओं का लक्ष्य टी-20 विश्व कप की तैयारी करना


मोहाली, 19 सितंबर (हि.स.)। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की श्रृंखला का पहला टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच 20 सितंबर को मोहाली में शुरू होगा। भारत 20 सितंबर को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी घरेलू श्रृंखला शुरू करेगा। श्रृंखला का दूसरा टी 20 मैच 23 सितंबर को नागपुर में और तीसरा और अंतिम टी 20 मैच 25 सितंबर को हैदराबाद में होगा।

हालांकि भारत एशिया कप 2022 के सुपर फोर चरण से आगे नहीं बढ़ सका, लेकिन इस श्रृंखला में कुछ सकारात्मक चीजें आ रही हैं। इनमें सबसे बड़ी बात है विराट कोहली का फिर से फॉर्म में लौटना। कोहली ने एशिया कप के दौरान पांच पारियों में 276 रन बनाए, जिसमें एक शतक और दो अर्धशतक शामिल था। एशिया कप में जिस तरह से कोहली बल्लेबाजी कर रहे थे,वह लंबे समय से नहीं देखा गया था और प्रशंसकों को उम्मीद होगी कि कोहली का वही फॉर्म इस श्रृंखला में भी बरकरार रहेगा।

सलामी बल्लेबाज केएल राहुल और कप्तान रोहित शर्मा को एक सकारात्मक शुरुआत देकर बड़े स्कोर के लिए एक ठोस नींव रखनी होगी, जिसके लिए वे जाने जाते हैं। केएल को हालांकि तीनों मैच में शानदार स्ट्राइक रेट के साथ अच्छा स्कोर करना होगा क्योंकि चोट से वापसी के बाद से ही आउट ऑफ फार्म चल रहे हैं, जिससे टीम में उनका स्थान खतरे में पड़ सकता है।

यह श्रृंखला सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, हार्दिक पांड्या और ऋषभ पंत जैसे मध्यक्रम के बल्लेबाजों के लिए एक विश्व स्तरीय टीम के खिलाफ बड़ा स्कोर करने का मौका है। पंत ने टेस्ट क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अच्छा स्कोर किया है और यह उनके लिए एक टी-20 खिलाड़ी के रूप में अपनी योग्यता साबित करने का मौका होगा, एक ऐसा प्रारूप जिसमें उन्होंने ज्यादातर संघर्ष किया है।

जसप्रीत बुमराह और हर्षल पटेल की वापसी से भारतीय गेंदबाजी आक्रमण को बल मिला है। विश्व कप के नजदीक आते ही वे दोनों अपनी वापसी पर विकेट लेने के लिए उत्सुक होंगे। अन्य तेज गेंदबाजों भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर और स्पिनर अक्षर पटेल, युजवेंद्र चहल को भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा।

दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया साल भर में कुछ टी-20 श्रृंखला जीत और एकदिवसीय मैचों में न्यूजीलैंड पर मिली 3-0 से जीत के बाद काफी आत्मविश्वास के साथ इस श्रृंखला में आ रहा है। सभी की निगाहें पावर-हिटर टिम डेविड पर होंगी, जिन्हें ऑस्ट्रेलियाई टीम में शामिल किया गया है। वह अपने नो-लुक शॉट्स और बड़े छक्कों के साथ काफी खतरनाक हो सकते हैं और भारतीय गेंदबाजों को उनसे सावधान रहना होगा।

कप्तान एरोन फिंच को सीरीज और विश्व कप में भी अपनी टीम की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए भारत के खिलाफ रन बनाकर अपनी खराब फॉर्म में सुधार करना होगा। यह श्रृंखला स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ के लिए खुद को एक टी20 खिलाड़ी के रूप में स्थापित करने का एक अवसर भी होगा।

हालांकि ऑस्ट्रेलिया को मिशेल मार्श, डेविड वार्नर और मार्कस स्टोइनिस जैसे सितारों की कमी खलेगी, लेकिन यह श्रृंखला ऑलराउंडर कैमरन ग्रीन और डेनियल सैम्स, बल्लेबाज जोश इंगलिस, तेज गेंदबाज नाथन एलिस जैसे खिलाड़ियों के लिए टीम में अपना स्थान सुरक्षित करने का एक अच्छा अवसर होगा।

ऑस्ट्रेलिया जोश हेज़लवुड, सीन एबॉट, एडम ज़म्पा और पैट कमिंस के साथ एक शीर्ष श्रेणी के गेंदबाजी आक्रमण के साथ उपमहाद्वीप की यात्रा कर रहा है। ये गेंदबाज अपनी आक्रामकता से किसी भी टीम के बल्लेबाजी आक्रमण को ढहा सकते हैं।

ऑस्ट्रेलिया सीरीज के लिए भारतीय टीम: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उप-कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, आर. अश्विन, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, दीपक चाहर, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव।

भारत के खिलाफ टी20 श्रृंखला के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम: सीन एबॉट, एश्टन एगर, पैट कमिंस, टिम डेविड, नाथन एलिस, एरोन फिंच (कप्तान), कैमरन ग्रीन, जोश हेज़लवुड, जोश इंगलिस, ग्लेन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, डैनियल सैम्स, स्टीव स्मिथ, मैथ्यू वेड, एडम ज़म्पा।