Thu. Sep 29th, 2022

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच ने की एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा


रविवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलेंगे अपना आखिरी एकदिवसीय मैच

मेलबर्न, 10 सितंबर (हि.स.)। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच रविवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना आखिरी एकदिवसीय मैच खेलेगें। फिंच इस मैच के बाद एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे।

फिंच, जिन्होंने 145 एकदिवसीय मैचों में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया है, ने इस साल 50 ओवरों के क्रिकेट में अपनी पिछली सात पारियों में केवल 26 रन बनाए।

फिंच ने एक आधिकारिक बयान में कहा, यह कुछ अविश्वसनीय यादों के साथ एक शानदार यात्रा रही है।

उन्होंने कहा, मैं कुछ शानदार एकदिवसीय टीमों का हिस्सा बनने के लिए बेहद भाग्यशाली रहा हूं। समान रूप से, मुझे उन सभी का आशीर्वाद मिला है, जिनके साथ मैंने खेला है। अब समय आ गया है कि एक नए कप्तान को अगले विश्व कप की तैयारी करने और जीतने का सबसे अच्छा मौका दिया जाए। मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने इस मुकाम तक मेरी यात्रा में मदद और समर्थन किया है।

फिंच ऑस्ट्रेलिया के आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप 2024 टीम का हिस्सा नहीं होंगे,हालांकि इस साल के टी 20 विश्व कप में वह टीम की कप्तानी करना जारी रखेंगे।

फिंच ने 145 एकदिनी मैचों में 17 शतकों और 30 अर्धशतकों के साथ 5401 रन बनाए हैं। उन्होंने 2013 में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में श्रीलंका के खिलाफ पदार्पण किया और स्कॉटलैंड के खिलाफ 148 रन बनाकर अपना पहला शतक बनाया।

2018 में गेंद से छेड़छाड़ मामले में स्टीव स्मिथ पर प्रतिबंध लगाने के बाद फिंच को स्थायी तौर पर ऑस्ट्रेलियाई सफेद गेंद टीम का कप्तान नियुक्त किया गया।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ निक हॉकले ने कहा, ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की ओर से, मैं आरोन को ऑस्ट्रेलियाई पुरुष एकदिवसीय टीम के कप्तान के रूप में और 50 ओवर के प्रारूप के एक अद्भुत प्रतिपादक के रूप में उनके विशाल योगदान के लिए बधाई देना चाहता हूं।

उन्होंने कहा, आरोन एक बहुत ही प्रतिभाशाली और दृढ़निश्चयी खिलाड़ी हैं, जिनके बल्ले के साथ उत्कृष्ट कार्य उनके मजबूत और प्रेरक नेतृत्व से मेल खाते हैं। मुझे खुशी है कि आरोन आगामी आईसीसी पुरुष टी20 विश्व कप में ऑस्ट्रेलियाई टीम का नेतृत्व करेंगे जहां उनका नेतृत्व, अनुभव और रणनीति घरेलू धरती पर हमारे टी20 विश्व कप खिताब की रक्षा के लिए महत्वपूर्ण साबित होगी।