Thu. Sep 29th, 2022

एसबीआई का अनुमान- आरबीआई नीतिगत ब्याज दरों में कर सकता है 0.50 फीसदी का इजाफा


नई दिल्ली, 13 सितंबर (हि.स)। अगस्त महीने में खुदरा महंगाई दर में वृद्धि के बाद रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) नीतिगत ब्याज दरों में 0.35 से 0.50 तक फीसदी का इजाफा कर सकता है। एसबीआई ने अपने रिसर्च में यह अनुमान लगाया है। इसमें कहा गया है कि सितंबर में मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की अगामी बैठक में आरबीआई ये बढ़ोतरी कर सकता है।

पहले से तय कार्यक्रम के मुताबिक एमपीसी की अगली बैठक 28-30 सितंबर के बीच होने वाली है। ऐसे में एसबीआई का अनुमान है कि पिछली दो बार की तरह महंगाई से निजात पाने के लिए आरबीआई इस बार भी नीतिगत ब्याज दर रेपो रेट में बढ़ोतरी करेगा। दरअसल दुनिया के कई केंद्रीय बैंकों ने महंगाई पर काबू पाने के लिए नीतिगत दरों में हाल ही में इजाफा किया है।

उल्लेखनीय है कि मौद्रिक नीति में सख्ती के वैश्विक ट्रेंड के मद्देनजर आरबीआई ने भी अब तक रेपो रेट में तीन बार 1.40 फीसदी की वृद्धि कर चुका है, जो बढ़कर 5.40 फीसदी के स्तर पर है। दरअसल राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के एक दिन पहले जारी आंकड़ों के मुताबिक उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) पर आधारित खुदरा महंगाई दर अगस्त में बढ़कर 7 फीसदी पर पहुंच गई, जो आरबीआई के संतोषजनक स्तर की ऊपरी सीमा से ज्यादा है।