Thu. Feb 22nd, 2024

उत्तराखंड : चमोली जिले के तीस से अधिक गांव बर्फ से आच्छादित


गोपेश्वर, 27 फरवरी (हि.स.)। उत्तराखंड के चमोली जिले के ऊंचाई वाले स्थानों पर शनिवार देर रात तक हुई बर्फबारी के चलते 30 से अधिक गांव बर्फ से ढक गये हैं। इससे पूरा जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। हालांकि रविवार को मौसम हल्के बादलों के साथ खुला रहा, जिससे लोगों ने कुछ राहत की सांस ली। बर्फ से बदरीनाथ हाइवे हनुमान चट्टी से आगे अवरुद्ध हो गया है। गोपेश्वर ऊखीमठ चोपता मोटर मार्ग भी भारी हिमपात से अवरुद्ध है।
आपदा प्रबंधन अधिकारी एनके जोशी ने बताया बर्फ से अवरुद्ध मार्गों को खोलने का कार्य किया जा रहा है। चमोली जिले के जोशीमठ, घाट, देवाल और दशोली ब्लॉक के 30 से अधिक गांव शनिवार की रात से हुई बर्फबारी से ढक गये हैं। इन गांवों में दो से चार फीट तक बर्फ जमी हुई है। चमोली में घाट ब्लॉक के रामणी गांव में हुई बर्फबारी से घाट रामणी मोटरमार्ग भी बाधित चल रहा है। प्रशासन की ओर से मार्ग खोले जाने का कार्य शुरू कर दिया गया हैं।
बर्फ से प्रभावित गांव
चमोली जिले के ऊपरी इलाकों में हुई बर्फबारी से डुमक, कलगोंठ, किमाणा, पल्ला जखोला, ढाक, करछों, तुगासी सहित जोशीमठ ब्लाक के 13 से अधिक गांव, घाट के रामणी, सुतोल, कनोल, भेंटी, बंगाली, सहित आधे दर्जन से अधिक गांव बर्फ की चपेट में हैं। दशोली ब्लाक के इराणी, पाणा, झींझी देवाल के हिमनी, वाण, घेस, तोरती, बलाण, लोहजंग, कुलिंग, सहित चमोली के अन्य बर्फ से प्रभावित हो गये हैं।