Sun. May 22nd, 2022

इबादतगाहों पर लाउडस्पीकर के शोर से नागरिक हो रहे परेशान


लखनऊ, 11 मई(हि.स.)। लखनऊ में प्रशासन एवं पुलिस की सख्ती के बावजूद अभी भी सआदतगंज, ठाकुरगंज, हसनगंज जैसे क्षेत्रों में इबादतगाहों पर लाउडस्पीकर शोर करते पाये जा रहे हैं। जिससे नागरिकों को परेशानी होने पर उनके द्वारा सोशल मीडिया पर फोटो एवं वीडियो डालकर प्रशासनिक कार्यवाही पर सवाल उठाया जा रहा है।

उच्च न्यायालय के लाउडस्पीकर पर कार्रवाई के आदेश के बाद लखनऊ पुलिस ने निरंतर कार्य किये और धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकरों को उतारा या उतरवाया है। ईद के पहले तक तेजी से चल रही कार्यवाही में थोड़ी कमी आयी और इसके कारण अभी कुछ इबादतगाहों पर फिर से लाउडस्पीकर का शोर सुनायी देने लगा है। सआदतगंज के अम्बरगंज, ठाकुरगंज, हुसैनाबाद के आसपास रहने वाले लोगों ने अपनी परेशानी को सोशल मीडिया पर लिखा है।

सआदतगंज के दरगाह काजमैन के निकट रहने वाले अभिषेक ने लिखा है कि उच्च न्यायालय के आदेश के बाद भी यहां पर प्रतिदिन सारे मानकों को तोड़ते हुए पांच लाउडस्पीकरों को लगाकर शोर किया जा रहा है। जिससे आम लोगों को परेशानी हो रही है।

हसनगंज क्षेत्र के बाबूगंज निवासी आशीष ने बताया कि हरी मस्जिद पर शाम के वक्त लाउडस्पीकर बजने पर वह चौंक गये। उनको आशा थी कि उच्च न्यायालय के आदेश पर हुई कार्यवाही के बाद अब लाउडस्पीकर का शोर सुनायी नहीं देगा। लेकिन अभी भी उच्च न्यायालय के आदेश का उल्लंघन होता दिख रहा है।

उल्लेखनीय है कि बीते एक माह में धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर उतरवाने या मानक के अनुसार आवाज कम कराने की कार्यवाही हुई और शासन स्तर से लखनऊ सहित उत्तर प्रदेश के आंकड़ें प्रस्तुत किये गये। इसके बाद भी लखनऊ के कुछ थाना क्षेत्रों में अभी भी लाउडस्पीकर का शोर सुनायी दे रहा है।