Thu. Sep 29th, 2022

आवारा पशुओं पर कार्यवाही करने में फेल नगर निगम : सेठी


हरिद्वार, 20 सितंबर (हि.स.)। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी के नेतृत्व में मायापुर पर व्यापारियों एवं क्षेत्रवासियों ने नगर निगम की कार्यप्रणाली पर नारेबाजी कर विरोध जताया। सेठी ने कहा कि अब तक के सबसे निराशाजनक कार्यकाल के लिए नगर निगम हरिद्वार को अवार्ड मिलना चाहिए। शहर में कोई भी सुविधा या उचित व्यवस्था हो नगर निगम के जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी सिर्फ खानापूर्ति तक सीमित हैं। धरातल पर कोई कार्य नहीं किया जा रहा।

उन्होंने कहा कि इस समय पशुओं विशेषकर गाय में संक्रमण फैलने से हजारों गाय दम तोड़ रही हैं। एक से दूसरे पशु में रोग फैल रहा है, लेकिन सड़कों पर आवारा घूमती गायों का न तो कोई इलाज किया जा रहा है न ही आवारा गायों अन्य पशुओं की रोकथाम को नगर निगम कोई प्रभावी कार्यवाही कर रहा है, जिसका खामियाजा अन्य पशु भुगत रहे हैं। नगर निगम के गैर जिम्मेदार रवैये की वजह से गाय तड़प-तड़प कर मर रही हैं, लेकिन कोई सुध लेने वाला नहीं।

महानगर अध्यक्ष जितेंद्र चौरसिया, महामंत्री नाथीराम सैनी ने कहा कि नगर निगम के जनप्रतिनिधि, अधिकारी कार्य के प्रति गम्भीर नहीं हैं। शहर के कई इलाकों विशेषकर उतरी हरिद्वार, मध्य हरिद्वार में बंदरों, आवारा कुत्तों के आतंक से नगरवासी परेशान हैं। लोगों की शिकायत के बाद भी कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने कहा कि हर व्यवस्था में फेल निगम को अपना कार्यकाल भंग कर देना चाहिए, क्योंकि हरिद्वार की छोटी सरकार से जो उम्मीदें जनता को थी उस पर वो खरा नहीं उतरी।

विरोध जताने वालों में पंकज माटा, सुनील मनोचा, मनोज ठाकुर, सोनू चौधरी, गौरव गौतम, हन्नी दामिर, धर्मपाल सिंह, रवि जोशी, प्रवीण कुमार, सुनील कुमार, रिंकू, राजेश भाटिया, उमेश चौधरी, मनोज ठाकुर, भूदेव शर्मा, राजेश शर्मा, अमित कुमार उपस्थित रहे।