Wed. Feb 21st, 2024

आजसू कार्यालय में वीर बुधु भगत एवं कर्पूरी ठाकुर को दी गयी श्रद्धांजलि


रांची, 17 फरवरी (हि.स.)। आजसू पार्टी की ओर से गुरूवार को पार्टी कार्यालय में अंग्रेजी सेना की क्रूरता के खिलाफ आंदोलन का बिगुल फूंकने वाले क्रांतिकारी तथा लरका आंदोलन के नायक अमर शहीद वीर बुधु भगत की जयंती मनायी गयी। इस अवसर पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए आजसू के प्रवक्ता देवशरण भगत ने कहा कि उनकी संघर्ष गाथा यह गवाही देती है कि झारखण्ड के लोग ना झुक सकते और ना ही रुक सकते। साथ ही जननायक कर्पूरी ठाकुर की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उन्होंने कहा कि देश में पहली बार किसी राज्य में अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षण सुनिश्चित करनेवाले बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी बाबू सामाजिक समरसता के प्रतीक तथा उपेक्षितों के मसीहा थे।
उन्होंने कहा कि हेमंत सरकार ना जनता की सुन रही, ना नौजवानों की और ना ही विपक्ष की। यह सरकार तानाशाह हो चुकी है। राजनीतिक एजेंडा से ग्रसित होकर काम कर रही है। राज्य के ज्वलंत विषयों पर मुख्यमंत्री एवं सरकार के द्वारा कोई जबाब नहीं दिया जाता है, उन्होंने चुप्पी साध ली है। साफ तौर पर यह दिखता है कि झामुमो महागठबंधन की सरकार झारखण्डियों के साथ न्याय नहीं करना चाहती। उन्होंने कहा कि आज भाषा विवाद को लेकर झारखण्ड के आदिवासी-मूलवासी सड़क पर हैं, लेकिन ना ही इस विषय पर मुख्यमंत्री कोई टिप्पणी करते हैं और ना ही उनके मंत्रियों की बात सुनी जाती है।
वहीं दूसरी ओर झारखंड सरकार द्वारा स्थानीयता, नियोजन नीति एवं क्षेत्रीय भाषा को लेकर लिए गए निर्णय से राज्य के आदिवासी-मूलवासी में व्याप्त आक्रोश के आलोक में राज्य के सभी विधायक और सांसद से मिलकर उपर्युक्त विषय पर उनका मंतव्य जानने को लेकर आजसू पार्टी द्वारा शुरु की गई मुहिम जारी है।
इसी क्रम में गुरूवार को आजसू प्रतिनिधियों ने झारखण्ड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख, मिथिलेश ठाकुर, हफीजुल हसन अंसारी के साथ-साथ रांची के विधायक सीपी सिंह, धनबाद की विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह, ईचागढ़ की विधायक साबिता महतो, निरसा विधायक अपर्णा सेनगुप्ता, सारठ के विधायक रणधीर सिंह, जगरनाथपुर के विधायक सोनाराम सिंकू से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि भाषा एवं स्थानीय नीति को लेकर झारखंड में उपजे असंतोष और जनभावना के मद्देनजर सरकार के निर्णय के खिलाफ सात मार्च को आजसू पार्टी झारखंड विधानसभा का घेराव करेगी। इसे लेकर व्यापक तैयारी की जा रही है।