Mon. Aug 8th, 2022

अररिया के फारबिसगंज फेना पथ के अनुरक्षण, सुदृढ़ीकरण और निर्माण को मिली स्वीकृति


अररिया 03अगस्त(हि.स.)। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना-3 के अंतर्गत अररिया जिले के फारबिसगंज से फेना पथ के अनुरक्षण, सुदृढ़ीकरण और निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो गया है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 34 किलोमीटर की लंबाई में इस पथ के अनुरक्षण सहित उन्नयन, चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण एवं निर्माण का कार्य 18 करोड़ 44 लाख 05 हजार रुपये की लागत से होगा, जिसकी प्रशासनिक स्वीकृति मिल गई है और ग्रामीण कार्य विभाग ने इस आशय का आदेश भी जारी कर दिया है। आशय की जानकारी बिहार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने दी।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना-3 के तहत भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय के द्वारा राज्य के 35 जिलों अररिया, अरवल, औरंगाबाद, बांका, भागलपुर, बेगूसराय, भोजपुर, बक्सर, छपरा, दरभंगा, पूर्वी चंपारण, गया, गोपालगंज, जहानाबाद, जमुई, कैमुर, कटिहार, खगड़िया, किशनगंज, लखीसराय, मधेपुरा, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, नवादा, पटना, पूर्णिया, रोहतास, सहरसा, समस्तीपुर, शेखपुरा, शिवहर, सीतामढ़ी, सिवान, सुपौल एवं वैशाली जिला में राज्य को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना-3 के अंतर्गत स्वीकृत पथों एवं पुलों के लिए समर्पित विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन पर स्वीकृति प्रदान की गई है। इसके तहत कुल 280 पथों, जिनकी लंबाई 2172.04 कि०मी० तथा प्राक्कलित राशि 1384 करोड़ 59 लाख एवं 84 पुलों की लंबाई 3570.64 मीटर तथा इसकी प्राक्कलित राशि 218 करोड़ 77 लाख रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई है। इस कुल स्वीकृत राशि 1603 करोड़ 36 लाख में राज्यांश की राशि 650 करोड़ 21 लाख रुपए है।

उन्होंने बताया कि इसी क्रम में अररिया जिला अंतर्गत 18 करोड 44 लाख 05 हजार रुपये की लागत से 34 किलोमीटर लंबाई में फारबिसगंज से फेना पथ के निर्माण, उन्नयन सुदृढ़ीकरण, चौड़ीकरण और अनुरक्षण कार्य की स्वीकृति प्रदान की गई है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में लोगों के आवागमन की बेहतर सुविधा मुहैया कराने की दिशा में सरकार प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। इन पथों के निर्माण हो जाने से आम जनमानस को आवागमन की बेहतर सुविधाएं प्राप्त होंगी तथा सड़कों के रख-रखाव में भी मदद मिलेगी।