Fri. May 27th, 2022

अभूतपूर्व संख्या में तीर्थयात्रियों के आने के कारण केदारनाथ मंदिर में आईटीबीपी ने बढ़ाई सुरक्षा


-एक लाख 30 हजार तीर्थयात्री कर चुके हैं दर्शन

नई दिल्ली, 13 मई (हि.स.)। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) केदारनाथ मंदिर और केदारनाथ घाटी में तीर्थयात्रियों के दर्शन और उनके आवागमन को नियंत्रित कर रही है। आईटीबीपी के प्रवक्ता विवेक पांडेय ने शुक्रवार को बताया कि मंदिर में प्रतिदिन 20 हजार से अधिक श्रद्धालु दर्शन कर रहे हैं और सोनप्रयाग, ऊखीमठ और केदारनाथ जैसे स्थानों पर केदारनाथ घाटी में तीर्थयात्रियों की भीड़ है।

इन स्थानों पर आईटीबीपी की टीमें यात्रियों की आवाजाही पर कड़ी नजर रखे हुए हैं। छह मई को मंदिर के कपाट खोलने के बाद एक सप्ताह का समय हो चुका है और अब तक करीब एक लाख 30 हजार से अधिक तीर्थयात्री केदारनाथ के दर्शन कर चुके हैं।

आईटीबीपी ने इलाके में अपनी आपदा प्रबंधन टीमों को भी अलर्ट कर दिया है। जगह-जगह ऑक्सीजन सिलेंडर और चिकित्सा उपकरणों के साथ मेडिकल टीमें तैनात की गई हैं और राज्य प्रशासन की मदद से मेडिकल इमरजेंसी और जरूरत पड़ने पर बीमार लोगों को निकालने का अभ्यास किया जा रहा है।

उधर, बद्रीनाथ मंदिर में भी आईटीबीपी की टीमें मंदिर और नागरिक प्रशासन को दर्शन के सुचारू संचालन और तीर्थयात्रियों के मंदिर परिसर आदि में आवागमन आदि के प्रबंधन में मदद कर रही हैं।

इस साल चारधाम यात्रा के शुरुआती दिनों में तीर्थयात्रियों की अभूतपूर्व संख्या देखी जा रही है क्योंकि इसे दो साल बाद कोविड प्रतिबंध हटाने के बाद पूर्व की भांति श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया है।